Tuesday, December 1, 2020
Home जयनगर बिहार का पहला ग्रीनफील्ड एक्सप्रेस-वे से सीधा जुड़ेगा दरभंगा एयरपोर्ट।

बिहार का पहला ग्रीनफील्ड एक्सप्रेस-वे से सीधा जुड़ेगा दरभंगा एयरपोर्ट।

मिथिलांचल के दरभंगा एवं जयनगर से सीधा जुड़ेगी दक्षिण बिहार, इसको लेकर भारतमाला योजना के तहत बिहार का पहला फोरलेन ग्रीनफील्ड एक्सप्रेस-वे औरंगाबाद-पटना होते हुए सीधा दरभंगा तक बनाया जायेगा । इसके बनने से लोग बिहार के किसी भी हिस्से से चार घंटे में पटना पहुंच पायेंगे, उत्तर बिहार और दक्षिण बिहार को जोड़ते हुए इस रोड से पटना का दरभंगा एवं गया एयरपोर्ट भी सीधे एक दूसरे से जुड़ जाएगा।

मार्च 2021 से निर्माण कार्य शुरू

बता दें कि यह एक्सप्रेस-वे 205 किलोमीटर लंबाई में बनेगी, जिसको बनाने में लगभग 7200 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। वहीं इसके लिए भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया शुरू हैं, तथा इसका निर्माण कार्य अगले साल मार्च में शुरू हो जाएगी। जहां इस सड़क को करीब ढ़ाई साल में तैयार कर लिए जाने की संभावना है। मालूम हो कि भारतमाला योजना के तहत बनने वाली इस सड़क को 80 प्रतिशत ग्रीनफील्ड रखा गया है।

7200 करोड़ की लागत से बनेगा ग्रीनफील्ड एक्सप्रेस-वे

वहीं ग्रीनफील्ड का अर्थ बता दें कि इस कॉरिडोर की अस्सी फीसदी सड़क नयी बनेगी। कुछ दिनों पहले एनएचएआई की भू-अर्जन समिति की मीटिंग में इस सड़क को औरंगाबाद से जयनगर तक करीब 271 किमी कुछ लंबाई में बनाने का प्रस्ताव था। जिसको समिति ने औरंगाबाद से दरभंगा तक के लिए इस सड़क को अपनी मंजूरी दे दी है। जिसका विस्तार अगले चरण में दरभंगा से जयनगर तक किया जाएगा। इससे नेपाल का सीमा ले लेकर बिहार की सीमा तक एक्सप्रेस वे कनेक्टिविटी मुहैया करायी जायेगी।

इन रास्तों से होकर गुजरेगी सड़क

औरंगाबाद जिले के मदनपुर से शुरू होने वाली यह फोरलेन सड़क गया एयरपोर्ट के साइड से गुजरते हुए जीटी रोड को नई कनेक्टिविटी देगी। जो गया से गुजरते हुए जहानाबाद और नालंदा के बॉर्डर से गुजरते हुए पटना के कच्ची दरगाह तक आयेगी। फिर वहां से बिदुपुर के बीच बन रहे छ: लेन पुल से चकसिकंदर, महुआ के पूरब होते हुए ताजपुर से कल्याणपुर, समस्तीपुर तक जाएगी। जो दरभंगा एयरपोर्ट के समीप ईस्ट-वेस्ट कॉरिडोर तक पहुंचेगी, जिससे कई ज़िलों के लोगों की मिथिला की राजधानी तक सीधी पहुँच होगी। वही पटना जाने का लिए उत्तर बिहार के लोगों को पटना- हाजीपुर- मुजफ्फरपुर मार्ग पर निर्भर नहीं रहना पड़ेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

जयनगर से मुम्बई की पहली यात्रा पर रवाना हुई पवन एक्सप्रेस।

प्रेषक:-नित्यानन्दझा,जयनगर(मधुबनी)1दिसम्बर,लोकमान्यतिलक टर्मिनल से दरभंगा के बीच चलनेवाली 01061/01062 पवन एक्सप्रेस मंगलवार को निर्धारित समय दिन के एक बजे पहली बार जयनगर से...

कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर श्रद्धालुओं का आगमन

मधुबनी। जयनगर अनुमंडल मुख्यालय से गुजरने वाली पवित्र कमला नदी के तट पर कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर श्रद्धालु पहुंचने लगे हैं।...

बगैर अतिक्रमण हटाये बन रही सड़क

शहर के जलधारी चौक से रांटी चौक (बाइपास) रोड का निर्माण बगैर अतिक्रमण हटाये किया जा रहा है। इससे आने वाले समय...

कोर्ट की मंजूरी मिलते ही बिहार में बहाल होंगे 90 हजार शिक्षक, दिसम्बर में नियुक्ति का रास्ता हो सकता है साफ

बिहार के सरकारी स्कूलों में शिक्षक बनने का सपने पाले करीब 90 हजार शिक्षक अभ्यर्थियों का इंतजार अगले माह खत्म हो सकता...

Recent Comments